Close

न्यूज़ टुडे टीम अपडेट : पूर्वी चंपारण सीमा में प्रवेश के साथ डुमरियाघाट व मेहसी में भोजन तो कोटवा में बिस्कुट-पानी व पीपराकोठी में चाय-बिस्कुट व नाश्ता की व्यवस्था किया जिला प्रशासन व पुलिस प्रशासन ने

न्यूज़ टुडे टीम अपडेट : मोतिहारी/ बिहार :

कोरोना संक्रमण के दौरान देश के अन्य प्रदेशों से लौट रहे प्रवासियों के चाय, नाश्ता व भोजन की व्यवस्था जिला प्रशासन व पुलिस प्रशासन द्वारा किया गया है। पूर्वी चंपारण सीमा में प्रवेश के साथ डुमरियाघाट व मेहसी में भोजन तो कोटवा में बिस्कुट-पानी व पीपराकोठी में चाय-बिस्कुट व नाश्ता की व्यवस्था की गई है।

इसकी जानकारी देते हुए पुलिस अधीक्षक नवीनचंद्र झा ने बताया कि शनिवार की शाम से डुमरियाघाट व मेहसी में प्रवासी मजदूरो के लिए भोजन की व्यवस्था की गई। वहीं पीपराकोठी व कोटवा में चाय, पानी व बिस्कुट की व्यवस्था कराई गई है। कोटवा थाना क्षेत्र के एनएच स्थित हनुमान मंदिर के पास सदर डीएसपी अरूण कुमार गुप्ता की देखरेख में बाहर से आ रहे प्रवासी मजदूरों के लिए विस्कुट व पानी की व्यवस्था की गई है। डीएसपी स्वयं प्रवासी मजदूरों को पानी व बिस्कुट देते दिखे। मेहसी व डुमरीयाघाट में खाना की व्यवस्था के अलावे पीपराकोठी में बिस्कुट चाय व खाना की व्यवस्था की गई है।

चकिया के डीएसपी शैलेंद्र कुमार ने बताया है कि राजमार्ग पर आने जाने वाले प्रवासी मजदूरों को पुड़ी, सब्जी, अचार के अलावे पानी की व्यवस्था की गई है। एसपी श्री झा ने बताया कि परदेश से लौट रहे मजदूरों की डगर आसान करने के उद्देश्य से पुलिस ने इस कार्यक्रम की शुरूआत की है। मौके पर मुफस्सिल अंचल निरीक्षक आनंद कुमार, थानाध्यक्ष संजीव कुमार, अभिनव कुमार दुबे, कंचन भास्कर, अभय कुमार, रमण कुमार के अलावे दारोगा मनीष कुमार, मनोज कुमार आदि मौजूद थे।

सैकड़ो भूखे प्यासे प्रवासी मजदूरों को दिया खाना और पानी

लॉकडाउन के कारण दूसरे प्रदेशों में फंसे प्रवासी मजदूरों का ठेला, रिक्सा, ऑटो, खुली ट्रक पर भर-भर कर आ रहे भूखे-प्यासे मजदूरों को खाना-पानी मुहैया कराने के लिए पुलिस के साथ-साथ कई लोग सामने आ रहे हैं। इसी क्रम में रविवार को कोटवा प्रखंड के कदम चौक स्थित हनुमान मंदिर के समीप दर्जनों ग्रामीण युवाओं ने खाने का पैकेट और सीलबंद पानी की बोतलें मुहैया कराई।

इस दौरान स्थानीय पुलिस बल के जवान एएसआई राजीव कुमार के नेतृत्व मजदूरों को सहायता उपलब्ध कराने में मदद कर रहे थे। इसके अतिरिक्त राष्ट्रीय राज मार्ग संख्या 28 पर कई अन्य जगहों पर भी इसी तरह के स्टॉल लगाई गई है। कार्यक्रम का नेतृत्व पूर्व प्रमुख हिमांशु कुमार उर्फ गोपू सिंह कर रहे थे। इस दौरान वीरेंद्र प्रसाद सिंह, पिटू कुमार, रामविनय सिंह, अजित कुमार, संजय कुमार सहित बड़ी संख्या में युवाओं ने अपनी सेवाएं दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Leave a comment
scroll to top