Close

न्यूज़ टुडे टीम अपडेट : सरकार ने शारीरिक दूरी को ध्यान में रखते हुए खेत में काम करने वालों को मास्क या गमछा से तीन परत में मुंह ढककर कृषि कार्य के लिए ढील दी गई है : राधामोहन

न्यूज़ टुडे टीम अपडेट : मोतिहारी/ बिहार :

कोरोना वायरस संक्रमण के खतरे के बीच केंद्रीय कृषि मंत्रालय ने गुरुवार को खरीफ फसलों की बुआई के दौरान किसानों को काम करने के साथ-साथ स्वयं को कोरोना संक्रमण से सुरक्षित रखने के मानक तय कर दिया है। धान और खरीफ की अन्य फसलों की बुआई कुछ हिस्सों में शुरू हो चुकी है। खेत में काम करने वालों को मास्क या गमछा से तीन परत में मुंह ढंकना अनिवार्य होगा। उक्त बातें अपने द्वारा भेजे गए संदेश-पत्र में पूर्व कृषि मंत्री सह सांसद व रेलवे स्टैंडिग कमेटी के चैयरमैन राधामोहन सिंह ने कही।श्री सिंह ने कहा कि सरकार ने शारीरिक दूरी को ध्यान में रखते हुए कृषि कार्य के लिए ढील दी है। क्षेत्र की पंचायतों में किसान सलाहकार, कृषि समन्वयक, एटीएम, बागवानी, पशुपालन एवं मत्स्य क्षेत्रों में अधिकारियों, कर्मचारियों की बड़ी संख्या है। कृषि एवं किसान देश की अर्थव्यवस्था की रीढ़ हैं। कृषि विशेषज्ञ किसानों के मार्गदर्शक हैं। उनके स्वस्थ रहने से कृषि उन्नति होगी, किसान समृद्ध होंगे। कोरोना के खिलाफ इस युद्ध में उनलोगों की बड़ी भूमिका है।श्री सिंह द्वारा भेजा गया वाशेबुल मास्क व डिटॉल साबुन को भाजपा जिलाध्यक्ष प्रकाश आस्थाना ने जिला कृषि पदाधिकारी डॉ. ओंकारनाथ सिंह को सिपुर्द किया। मौके पर जिला महामंत्री द्वय भाजपा डॉ. लालबाबू प्रसाद व मार्तण्ड नारायण सिंह, पार्टी के मीडिया प्रभारी गुलरेज शहजाद उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Leave a comment
scroll to top