Close

न्यूज़ टुडे टीम अपडेट : कोरोना संकट के कारण दो महीने के लॉकडाउन के बाद 25 मई से घरेलू उड़ानें एक बार फिर से होंगी शुरु

न्यूज़ टुडे टीम अपडेट : नई दिल्ली :

कोरोना संकट के कारण दो महीने के लॉकडाउन के बाद 25 मई से घरेलू उड़ानें एक बार फिर से शुरु होंगी। नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने यह घोषणा करते हुए सभी एयरपोर्ट और एयरलाइनों को तैयारी रहने को कहा है। सरकार के इस फैसले से पिछले दो महीने से लाकडाउन में फंसे लोगों को बड़ी राहत मिली है।

नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा ‘घरेलू नियमित कामर्शियल उड़ानें 25 मई सोमवार से शुरु हो जाएंगी। इसके लिए सभी एयरपोर्ट और एयरलाइनों को इसके लिए तैयार रहने को कहा गया है। फिलहाल सीमित उड़ानों को ही इजाजत दी जा सकती है।’ लेकिन पुरी ने इंटरनेशनल फ्लाइटों की नियमित उड़ानों के शुरु होने बारे में फिलहाल कुछ नहीं कहा है। दरअसल, कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप पर काबू पाने के लिए एहतियात के तौर पर सभी घरेलू व अंतरराष्ट्रीय उड़ानें लाकडाउन की घोषणा के साथ ही 25 मार्च से बंद कर दी थीं।

पुरी ने अपने एक ट्वीट संदेश में कहा है कि घरेलू उड़ानें 25 मई 2020 से फिर से शुरु होंगी। सभी एयरपोर्ट और एयर लाइनों को इसके लिए तैयार रहने को कह दिया गया है। नागरिक उड्डयन मंत्रालय के मुताबिक फ्लाइट पकड़ने वाले यात्रियों को उनकी स्वास्थ्य सुरक्षा, एयरपोर्ट पर काम करने वाले कर्मचारियों और एयरलाइनों के लिए विस्तृत आचार संहिता के बारे में बाद में अलग से दिशानिर्देश जारी किया जाएगा।

कोविड-19 की महामारी के चलते भारत में नागरिक उड्डयन क्षेत्र बुरी तरह प्रभावित हुआ है। पिछले दो महीने के भीतर एक भी घरेलू उड़ान नहीं हो सकी है। इस दौरान एयरलाइनों में कर्मचारियों की छंटनी, पायलटों के वेतन में कटौती और अवैतनिक ड्यूटी जैसे कड़े फैसले लिए गए। पहले, दूसरे और तीसरे चरण के लाकडाउन के दौरान फ्लाटें नहीं उड़ीं। चौथे चरण की शुरुआत 18 मई से हुई है, लेकिन सरकार ने 25 मई से बंद बड़ी फ्लाइट्स को शुरु करने का फैसला ले लिया है। लॉकडाउन के दौरान केवल कार्गो फ्लाइट्स, मेडिकल एंबुलेंस फ्लाइट, कुछ जगहों पर हेलिकाप्टरों की उड़ानों के साथ कुछ विशेष उड़ानों को इजाजत दी गई थी।

बता दें कि इससे पहले  घरेलू उड़ानों को शुरू करने के मुद्दे पर केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने ट्वीट किया था कि घरेलू उड़ानों की बहाली का फैसला केवल मिनिस्‍ट्री ऑफ सिविल एविएशन, गवर्नमेंट ऑफ इंडिया या केंद्र अकेले नहीं ले सकता। सहकारी संघवाद की भावना ने राज्‍यों सरकारों की भी, जहां से ये फ्लाइट टेकऑफ और लेंडिंग करेगी, को भी अनुमति देने के लिए तैयार होना चाहिए।

बता दें कि कि देश में 25 मार्च से जारी लॉकडाउन के समय से ही घरेलू उड़ानों पर पाबंदी लगी है। लॉकडाउन का चौथा चरण 31 मई को समाप्त होगा। सरकार की ओर से धीरे-धीरे ज्यादातर पाबंदियां खत्म की जा रही हैं। रेलवे ने मंगलवार को 200 नॉन-एसी ट्रेनें चलाने का फैसला लिया है। ये ट्रेनें 1 जून से टाइम टेबल के अनुसार प्रतिदिन चलेंगी।

कई एयरलाइंस ने शुरू कर दी है बुकिंग

बता दें कि सरकार की तरफ से इसको लेकर अभी निर्देश जारी किया गया है। हालांकि कई एयरलाइंस ने 1 जून से हवाई टिकट की बुकिंग शुरू कर दी है। एयरलाइंस पहले भी ऐसा कर चुकी हैं। लॉकडाउन के चौथे चरण में भी प्लेन, ट्रेन, मेट्रो के संचालन पर पूरी तरह से पाबंदी है। लेकिन अब इसे धीरे-धीरे खोला जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Leave a comment
scroll to top