Close

न्यूज़ टुडे टीम अपडेट : राज्य में 22 और कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद बिहार में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ कर 425, राज्य में 87 मरीज स्वस्थ होकर घर लौटे

न्यूज़ टुडे टीम अपडेट : पटना/ बिहार :

बिहार की राजधानी पटना के दो और मुहल्लों में भी कोरोना का संक्रमण फैल गया है. गुरुवार को राज्य में 22 और कोरोना पॉजिटिव मिले, जिनमें पटना के मीठापुर और मजिस्ट्रेट कॉलोनी के दो लोग शामिल हैं. इसके साथ ही पटना में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़कर 44 हो गयी है. पटना के अलावा रोहतास में 11, सीतामढ़ी में चार, मुंगेर में तीन और सारण में दो नये केस मिले हैं. इससे बिहार में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ कर 425 हो गयी है. मीठापुर में कोरोना पॉजिटिव पाया गया 32 वर्षीय युवक आइजीआइएमएस के रेडियोलॉजी विभाग में तकनीशियन है. वह पत्नी और दो बच्चों के साथ रहता है.

साथ ही वह एक सहकर्मी के साथ बाइक से आइजीआइएमएस आता-जाता था. 26 अप्रैल को अपना सैंपल जांच के लिए देकर वह 28 अप्रैल तक ड्यूटी करता रहा. 28 अप्रैल के बाद वह होम क्वारेंटिन में था. वहीं, मजिस्ट्रेट कॉलोनी में पॉजिटिव पाया गया 45 वर्षीय व्यक्ति कटिहार में कृषि विभाग में काम करता है. वह छुट्टी में घर आया था, तभी लॉकडाउन में फंस गया. अब जब उसे ड्यूटी पर जाना था, तो उसने हेल्थ रिपोर्ट के लिए आइजीआइएमएस में कोरोना जांच करायी, जिसमें वह पॉजिटिव निकला. स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने बताया कि रोहतास जिले में जो 11 नये केस मिले हैं, उनमें 10 पुरुष हैं और एक महिला है.

सीतामढ़ी जिले के झुकटी बोखरा गांव में चार पॉजिटिव पाये गये हैं, जिनमें 32, 41 व 42 साल के तीन पुरुष और 38 साल की एक महिला है वहीं, मुंगेर के जमालपुर सदर बाजार में 14, 16 व 40 साल के तीन पुरुष पॉजिटिव पाये गये हैं. इसके अलावा सारण जिले के नजिबा की 35 वर्षीया महिला और सोनपुर के 62 वर्षीय बुजुर्ग पॉजिटिव पाये गये हैं.

22 और मरीज हुए डिस्चार्ज, अब तक 87 घर लौटे

स्वास्थ्य सचिव लोकेश कुमार सिंह ने गुरुवार को बताया कि 24 घंटे में 22 लोग ठीक हुए. अब तक राज्य में 87 मरीज स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं. एनएमसीएच से 20 लोगों को डिस्चार्ज किया गया, जबकि दो को सीवान के अस्पताल से छुट्टी दी गयी. इनमें मुंगेर के सात, नालंदा के सात, बक्सर के चार, सीवान के तीन और पटना का एक मरीज है. एनएमसीएच के अधीक्षक डॉ निर्मल कुमार सिन्हा व एपिडेमियोलॉजिस्ट डॉ मुकुल कुमार सिंह ने बताया कि नोडल चिकित्सा पदाधिकारी डॉ अजय कुमार सिन्हा व सहायक नोडल चिकित्सा पदाधिकारी डॉ किशोर कुमार सहयोगी व जूनियर डॉक्टरों की उपस्थिति में 20 मरीजों काे एक्सरे व आवश्यक जांच कराने के बाद छुट्टी दी गयी. सभी को 14 दिनों तक होम क्वारेंटिन और हाथ धोने की आदत अपनाने का निर्देश दिया गया है. एनएमसीएच में ठीक होने वाले मरीजों की संख्या अब 54 हो गयी है.

एनएमसीएच से जिन्हें छुट्टी मिली, उनमें मुंगेर के जमालपुर सदर बाजार के 28 वर्षीय मो जावेद, 52 वर्षीय शंकर राम शर्मा, 36 वर्षीय मो पप्पू, 31 वर्षीय मो एकराम, 36 वर्षीय मो जुम्मन, 30 वर्षीय मो नौशाद व 60 वर्षीया महिला रेहाना खातून, सीवान का 20 वर्षीय अजरुन कुमार दुबे, पटना के फुलवारीशरीफ का 60 वर्षीय मो अब्दुल राशिद, नालंदा के बिहारशरीफ की 19 वर्षीया आयशा, 60 वर्षीय आफताब आलम, 60 वर्षीय भाई सरफराज आलम, 50 वर्षीयस आलिया परवीन व मो गुलाम मुस्तफा और बक्सर के नया भोजपुर के 32 वर्षीय मो इरफान, 60 वर्षीया मुमताज आलम, 50 वर्षीय नियाज आलम, 39 वर्षीया नसीमा खातून और उसकी दो बेटियां 12 वर्षीय अफरीना खातून व फरदीना खातून शामिल हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Leave a comment
scroll to top