Close

न्यूज़ टुडे टीम अपडेट : पूर्वी चंपारण जिला में नदियों का तांडव जारी, डुमरियाघाट में बन रहे निर्माणाधीन पुल का एप्रोच पथ ध्वस्त, आवागमन बाधित

न्यूज़ टुडे टीम अपडेट : मोतिहारी/ बिहार :

पूर्वी चंपारण जिला में नदियों का तांडव जारी है. अन्य नदियों के साथ गंडक नदी ने शुक्रवार को जिले में खूब तबाही मचाई है. गंडक ने पहले चंपारण तटबंध को ध्वस्त किया. उसके बाद डुमरिया घाट पर बन रहे निर्माणाधीन पुल के पहुंच पथ को ध्वस्त कर दिया. साथ ही मुख्य पुल के एप्रोच रोड को मोतिहारी के तरफ से खंगालना शुरू कर दिया है. जिस कारण एनएच-28 पर आवागमन पर पूरी तरह से रोक दिया गया है. हालांकि, एनएचएआई के अधिकारी कटाव स्थल के मरम्मती में लगे हुए हैं.

डुमरियाघाट पुल पर पहुंचे एनएचएआई के अधिकारी

एनएच-28 पर गंडक नदी पर बने डुमरियाघाट पुल के समीप अधिकारियों की टीम नदी के जलस्तर का मुआयना के लिए पहुंची थी. उसी दौरान निर्माणाधीन पुल का एप्रोच पथ भरभरा कर नदी में समा गया. उसके बाद नदी ने मुख्य पुल के एप्रोच रोड को खंगालना शुरू कर दिया. जिसके बाद आनन-फानन में सिमेंट की बोरियों में गिट्टी, बालू, मिट्टी भरकर फेंकवाया जाने लगा. तब जाकर मुख्य पुल के एप्रोच पथ का कटाव को कुछ हद तक रोका जा सका. लेकिन निर्माणाधीन पुल के एप्रोच रोड के कटाव स्थल को रिस्टोर करने के लिए अधिकारियों की टीम पहुंची है. लेकिन कहना मुश्किल है कि कब तक कटावस्थल की मरम्मती हो सकेगी. मजदूर लगे हुए हैं और मरम्मती का काम जारी है. आम लोगों को कटाव स्थल के पास जाने से रोका जा रहा है.

एनएच 28 पर आवागमन हुआ ठप

बता दें कि गोहाटी-दिल्ली एनएच 28 के डुमरियाघाट के पास गंडक नदी पर बने मुख्य पुल के सामानांतर एक अन्य पुल का निर्माण किया जा रहा है. नदी में बाढ़ आ जाने के कारण पुल का निर्माण कार्य रोक दिया गया था. गंडक के बढ़े जलस्तर ने निर्माणाधीन पुल के अप्रोच को ध्वस्त करने के बाद मुख्य पुल के एप्रोच पथ को भी खंगालना शुरू कर दिया है. लिहाजा जिला प्रशासन ने एनएच-28 पर अनिश्चित काल के लिए आवागमन को बंद कर दिया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Leave a comment
scroll to top