Home खास खबरें न्यूज़ टुडे टीम अपडेट : भारत में कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमितों की...

न्यूज़ टुडे टीम अपडेट : भारत में कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमितों की संख्या 2 लाख पार, आईसीएमआर ने कहा कि देश में कोरोना वायरस का पीक सीजन आना बाकी

न्यूज़ टुडे टीम अपडेट : नई दिल्ली :

भारत में कोरोना वायरस (कोविड-19) का कहर जारी है. संक्रमितों की संख्या 2 लाख पार कर गई है. इसके साथ ही यह दुनिया का सातवां देश हो गया है, जहां इतने अधिक लोग कोरोना पॉजिटिव पाए जा चुके हैं. भारत से पहले अमेरिका, ब्राजील, रूस, स्पेन, ब्रिटेन और इटली ने 2 लाख केस का आंकड़ा पार किया है. देश में अब औसतन 8 हजार नए केस रोज रिकॉर्ड हो रहे हैं और 300 के करीब लोगों की जान जा रही है. इस बीच इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) ने कहा कि देश में कोरोना वायरस का पीक सीजन आने में अभी काफी वक्त है.

कोविड-19 के रोजाना औसतन 8 हजार केस आने से माना जा रहा था कि ये कोरोना का पीक सीजन है, लेकिन आईसीएमआर के साइंटिस्ट डॉ. निवेदिता गुप्ता की मानें तो भारत कोरोना के पीक सीजन से अभी बहुत दूर है. कोरोना को रोकने के लिए हमारी कोशिशें और सरकार द्वारा लिए गए फैसले काफी कारगर साबित हो रहे हैं. यही वजह है कि बाकी देशों की तुलना में हमारी स्थिति काफी बेहतर है. आईसीएमआर के साइंटिस्ट डॉ. निवेदिता गुप्ता आगे कहती हैं कि ऐसे समय में हमारी पूरी कोशिश कम्युनिटी ट्रांसमिशन को रोकने की होनी चाहिए.

ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (एम्स) के डायरेक्टर डॉ. रणदीप गुलेरिया ने भी कहा कि भारत में जून या जुलाई में कोरोना वायस के मामले अपने चरम पर पहुंच सकते हैं. गुलेरिया ने कहा, ‘भारत में कोविड-19 के मामले चरम पर कब होंगे, इसका जवाब मॉडलिंग डेटा पर निर्भर करेगा. राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय दोनों विशेषज्ञ डेटा का विश्लेषण कर रहे हैं. उनमें से अधिकांश ने अनुमान लगाया है कि भारत में जून या जुलाई में मामलों की संख्या अपने चरम पर पहुंच सकती है.’

हालांकि, विशेषज्ञों का कहना है कि जब कोई संक्रामक बीमारी चरम पर पहुंचती है, तो इसका मतलब यह नहीं हो सकता है कि इसका प्रकोप खत्म हो गया है. आमतौर पर इसका मतलब है कि सबसे खराब स्थिति खत्म हो चुकी है. मगर बाद में इस महामारी का सेंकड वेब आ सकता है. कोविड-19 भी ऐसी खतरनाक महामारी है.

राहत की बात है कि सबसे प्रभावित देशों के मुकाबले भारत का रिकवरी रेट काफी बेहतर है. यहां अब तक 2 लाख मरीजों में से 95 हजार 852 मरीज ठीक हो चुके हैं. हमारा रिकवरी रेट अभी 48.3% है. इसका मतलब ये है कि हर 100 में से 48 मरीज ठीक हो रहे हैं. यूके में सबसे कम रिकवरी रेट है. यहां अभी तक दो लाख मरीजों में सिर्फ 0.001% मरीज ही ठीक हो पाए हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Our Visitor

5998817
Users Today : 4
Users Yesterday : 20
Users Last 7 days : 102
Users Last 30 days : 292
Users This Month : 193
Users This Year : 464
Total Users : 5998817
Views Today : 15
Views Yesterday : 121
Views Last 7 days : 687
Views Last 30 days : 1953
Views This Month : 1388
Views This Year : 3351
Total views : 6634438
Who's Online : 0
Your IP Address : 3.237.34.21
Server Time : 2024-02-21
- Advertisment -

Most Popular

न्यूज़ टुडे ब्रेकिंग अपडेट : सम्पूर्ण विश्व में चम्पारण के अतीत के अनछुए पहलुओं से रूबरू कराती फ़िल्म “चम्पारण सत्याग्रह” युगों युगों तक रामायण...

न्यूज़ टुडे ब्रेकिंग अपडेट : मोतिहारी रिंकू गिरी, स्थानीय संवाददाता  ★आज की युवा पीढ़ी चम्पारण सत्याग्रह को न के बराबर जानती है। उन्हें यह मालूम नही...

न्यूज़ टुडे ब्रेकिंग अपडेट : मुंबई बॉलीवुड के कार्यक्रम में मोतिहारी का जलवा, डा.राजेश अस्थाना व अमित सर्राफ के साथ सम्मानित हुई कई फिल्मी...

न्यूज़ टुडे ब्रेकिंग अपडेट : मोतिहारी/ मुम्बई रिंकू गिरी, स्थानीय संवाददाता मुंबई स्थित सोनकर समाज द्वारा संत तुकाराम लाल मैदान, कोपरी ठाणे मुंबई में गणतंत्र दिवस...

न्यूज़ टुडे एक्सक्लूसिव : केंद्र सरकार ने खेला बड़ा दांव, कर्पूरी ठाकुर की जन्म शताब्दी से पहले भारत रत्न देने की हुई घोषणा

न्यूज़ टुडे एक्सक्लूसिव : डा. राजेश अस्थाना, एडिटर इन चीफ, न्यूज़ टुडे मीडिया समूह : ★बिहार की राजनीति में केंद्र सरकार ने जदयू और राजद को...

न्यूज़ टुडे टीम अपडेट : वरीय रंगकर्मी प्रसाद रत्नेश्वर के नेतृत्व में बिहार महोत्सव की टीम दिल्ली रवाना

न्यूज़ टुडे टीम अपडेट : रिंकू गिरी, स्थानीय संवाददाता : •विदा करने बापू धाम मोतिहारी स्टेशन पहुँचे संस्कृति प्रेमी • दिल्ली में नुक्कड़ नाटक करेंगे मोतिहारी के...

Recent Comments