Close

न्यूज़ टुडे बिग ब्रेकिंग : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बंगाल में अम्फान प्रभावित इलाकों का दौरा करने के बाद शुरुआती तौर पर 1000 करोड़ रुपये की आर्थिक मदद का ऐलान किया, कहा कि वह इस दुख की घड़ी में पश्चिम बंगाल के साथ

न्यूज़ टुडे बिग ब्रेकिंग : कोलकाता/ नई दिल्ली :

सुपर साइक्लोन ‘अम्फान’ ओडिशा और पश्चिम बंगाल में भारी तबाही मचाने के बाद गुरुवार को कमजोर पड़ गया. बंगाल में चक्रवात अम्फान ने भारी तबाही मचाई है. पिछले 283 साल में आया ये अब तक का सबसे भयानक चक्रवात था. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बंगाल में अम्फान प्रभावित इलाकों का दौरा करने के बाद शुरुआती तौर पर 1000 करोड़ रुपये की आर्थिक मदद का ऐलान किया है. पीएम मोदी ने कहा कि वह इस दुख की घड़ी में पश्चिम बंगाल के साथ हैं.

कोरोना संकट से निपटने के लिए देशव्यापी लॉकडाउन लागू होने के 57 दिनों के बाद प्रधानमंत्री दिल्ली से बाहर निकले. जनता कर्फ्यू से काउंट करें तो देश में लगे लॉकडाउन को 59 दिन हो गए हैं. इस बीच प्रधानमंत्री दिल्ली में ही रहे हैं. इतने दिनों में उन्होंने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए ही देश के अंदर और अंतरराष्ट्रीय बैठकों में हिस्सा लिया. वहीं, लॉकडाउन से पहले पीएम मोदी आखिरी बार 83 दिन पहले 29 फरवरी को उत्तर प्रदेश के प्रयागराज और चित्रकूट के दौरे पर गए थे.

पीएम मोदी ने कहा, ‘जब देश में कोरोना वायरस का संकट है, तब पूर्वी क्षेत्र में तूफान ने प्रभावित किया. राज्य और केंद्र सरकार दोनों ने इस तूफान को लेकर तैयारी की थी, लेकिन इसके बावजूद 80 लोगों की जान हम नहीं बचा पाए हैं. इस तूफान की वजह से काफी संपत्ति का नुकसान हुआ है, जिसमें घर उजड़े हैं और इन्फ्रास्ट्रक्चर को बड़ा नुकसान हुआ है.’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बंगाल में अम्फान प्रभावित इलाकों में मृतकों के परिजनों के लिए मुआवजे का ऐलान किया गया है. पीएम मोदी ने राहत कोष से मृतकों के परिजनों को 2 लाख रुपये का मुआवजा देने का ऐलान किया है.

पीएम मोदी बंगाल में अम्फान चक्रवात प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वे किया, इस दौरान ममता बनर्जी भी उनके साथ मौजूद रहीं. ममता बनर्जी ने पीएम मोदी से अम्फान को राष्ट्रीय आपदा घोषित करने की मांग की.

इसके पहले सीएम ममता बनर्जी ने पीएम मोदी का कोलकाता एयरपोर्ट पर  स्वागत किया. इस दौरान बाबुल सुप्रियो, प्रताप चंद्र सारंगी और देवश्री चौधरी भी मौजूद रहे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Leave a comment
scroll to top