Close

न्यूज़ टुडे टीम अपडेट : अब सीएम नीतीश कुमार के आवास में डॉक्टरों की नहीं होगी प्रतिनियुक्ति, विपक्ष के निशाने पर आए सीएम नीतीश कुमार के निर्देश पर आदेश पत्र हुआ रद्द

न्यूज़ टुडे टीम अपडेट : पटना/ बिहार :

★अब सीएम नीतीश कुमार के आवास में डॉक्टरों की प्रतिनियुक्ति नहीं की जाएगी. पीएमसीएच अधीक्षक ने उस आदेश पत्र को रद्द कर दिया है जिसके अंतर्गत बुधवार से सीएम हाउस में कोविड-19 हॉस्पिटल के साथ डॉक्टरों की प्रतिनियुक्ति, व वेंटिलेटर की व्यवस्था की जानी थी.★

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के आवास पर कोविड-19 का आधुनिक अस्पताल खुलने और उसमें डॉक्टर्स व नर्सिंग स्टाफ की नियुक्ति की सूचना पर जमकर बवाल कटा उसके बाद अब पटना मेडिकल कॉलेज ने अपने उस आर्डर को निरस्त कर दिया है जिसके अंतर्गत सीएम आवास में स्पेशल कोविड-19 हॉस्पिटल बनाए जाने और उसमें 6 डॉक्टर्स व तीन नर्स की नियुक्ति प्रस्तावित थी.

नए आदेश के मुताबिक अब सीएम नीतीश कुमार के आवास में डॉक्टरों की प्रतिनियुक्ति नहीं की जाएगी. पीएमसीएच अधीक्षक ने उस आदेश पत्र को रद्द कर दिया है जिसके अंतर्गत बुधवार से सीएम हाउस में कोविड-19 हॉस्पिटल के साथ डॉक्टरों की प्रतिनियुक्ति, व वेंटिलेटर की व्यवस्था की जानी थी.

विपक्ष के निशाने पर आए सीएम नीतीश कुमार

रिपोर्ट के मुताबिक दरअसल पहले एक आदेश पारित हुआ था कि सीएम आवास पर आधुनिक अस्पताल में 24 घंटे 3 डॉक्टर और 3 नर्सों की टीम तैनात की जाएगी. नीतीश के सरकारी आवास पर खोले जाने वाले इस आधुनिक कोविड-19 अस्पताल में वेंटिलेटर की भी सुविधा उपलब्ध रहेगी. पीएमसीएच अधीक्षक ने इस बाबत एक पत्र भी जारी किया था. इस पत्र में पीएमसीएच के अधीक्षक ने लिखा था कि अपर सचिव स्वास्थ्य विभाग द्वारा फोन पर दिए गए निर्देश पर कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए सीएम आवास पर वेंटिलेटर युक्त अस्पताल का संचालन किया जाना है. जिसके बाद सीएम नितीश कुमार विपक्ष के निशाने पर आ गए थे. आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार पर तंज कसते हुए कहा था कि मुख्यमंत्री की कोरोना जांच 2 घंटे में हो जाती है और रिपोर्ट भी आ जाती है. नीतीश कुमार की भतीजी के संक्रमित हो जाने के बाद उन्होंने घर में ही वेंटिलेटर युक्त अस्पताल बनवा लिया है, जहां पर 6 डॉक्टर, 2 नर्स व स्वास्थ्य कर्मियों की फौज लगा दी है.

तेजस्वी यादव का ट्वीट

तेजस्वी यादव ने अपने ट्वीट में लिखा राजनीतिक विरोध अपनी जगह लेकिन आदरणीय मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार जी पूर्णत: स्वस्थ रहें ऐसी मनोकामना करता हूं. बस एक विनम्र आग्रह है कि जो सुविधायें उनके लिए उपलब्ध हैं वो हमारे बिहार के जनसाधारण को भी मिलें. फिलहाल पीएमसीएच अधीक्षक ने उस आदेश पत्र को रद्द कर दिया गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Leave a comment
scroll to top