Close

न्यूज़ टुडे टीम अपडेट : सत्तर घाट महासेतु के अप्रोच रोड के टूटने का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था कि ठीक उसी तरह जादवपुर-मंगलपुर महासेतु के आगे एप्रोच पथ में अचानक से दरार, परिचालन पर फिलहाल रोक

न्यूज़ टुडे टीम अपडेट : गोपालगंज/ बिहार :

बिहार के गोपालगंज में बाढ़ का कहर लगातार जारी है. जिला में सत्तर घाट महासेतु के अप्रोच रोड के टूटने का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था कि ठीक उसी तरह जादवपुर-मंगलपुर महासेतु के आगे एप्रोच पथ में अचानक से दरार आ गया है. गण्डक के तेज बहाव की वजह से इस एप्रोच पथ में दरार लगातार बढ़ रहा है. इसकी वजह से गोपालगंज से बेतिया को जोड़ने वाले इस महासेतु पर परिचालन फिलहाल रोक दिया गया है.

लोगों की गई नजर तो रोका गया रास्ता

स्थानीय लोगों और जिला प्रशासन द्वारा अप्रोच रोड में जो दरार आया है उसे भरने की कोशिश की जा रही है. गोपालगंज में वर्तमान में करीब साढे चार लाख क्यूसेक पानी का बहाव है जिसकी वजह से जिले में कई बांधों पर भी दबाव बना हुआ है. गुरुवार की सुबह जैसे ही जादूपूर-मंगलपुर महासेतु के आगे रजवाहीगांव के समीप सड़क में दरार पड़ा तो लोगों में हड़कंप मच गया.

इस महासेतु का उद्घाटन सीएम नीतीश कुमार ने वर्ष 2015 में किया था. इस महासेतु का निर्माण भी वशिष्टा कंपनी के द्वारा कराया गया है. महासेतु से करीब 300 मीटर के आगे ही राजवाही गांव है वहीं पर यह पुलिया है उस पर दरार आ गया है जिसे भरने की फिलहाल कोशिश की जा रही है. मालूम हो कि बिहार के गोपालगंज में सत्तर घाट पुल का अप्रोच रोड बाढ़ के पानी में बहने के कारण सरकार को भारी फजीहत झेलनी पड़ी थी. विपक्ष ने इसे घोटाला करार देते हुए पुल का निर्माण कराने वाली कंपनी को बैन करने और पथ निर्माण विभाग के मंत्री को कैबिनेट से बाहर करने की मांग की थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Leave a comment
scroll to top