Close

न्यूज़ टुडे टीम अपडेट : विकास दुबे के दो और करीबी साथियों प्रभात मिश्रा और प्रवीण शुक्ला को यूपी एसटीएफ ने मार गिराया

न्यूज़ टुडे टीम ब्रेकिंग अपडेट : इटावा/ उत्तरप्रदेश :

कानपुर कांड के मास्टरमाइंड विकास दुबे का साम्राज्य एक-एक कर ढहता जा रहा है. आठ पुलिसकर्मियों की शहादत मामले में फरार चल रहे विकास दुबे के दो और करीबी साथियों को यूपी एसटीएफ ने गुरुवार को मार गिराया. कानपुर में एसटीएफ दरोगा की पिस्टल छिनकर भाग रहे प्रभात मिश्रा उर्फ़ कार्तिकेय को पुलिस ने ढेर किया तो उधर इटावा में पुलिस ने उसके तीसरे साथी प्रवीण उर्फ़ बव्वन शुक्ला को पुलिस ने एनकाउंटर में मार गिराया. बव्वन पर 50 हजार का इनाम घोषित था और उसके खिलाफ विकरू गांव में पुलिस टीम पर हुए हमले में शामिल होने के आरोप में चौबेपुर थाने में केस भी दर्ज था.

कार लूटकर हो रहा था फरार

एसएसपी आकाश तोमर ने बताया कि आज सुबह तड़के 3 बजे महेवा थाना क्षेत्र के हाईवे पर बकेवर के पास एक स्विफ्ट डिजायर कार DL-1Z-A3602 को स्कॉर्पियो सवार चार असलहाधारी बदमाशों ने लूट लिया. इसके बाद करीब साढ़े 4:30 बजे पुलिस ने उन्हें सिविल लाइन्स थाना क्षेत्र के कचौरा रोड पर पुलिस ने उन्हें घेरा. इसके बाद पुलिस ने कार पीछा किया. जिसके बाद कार पेड़ से टकरा गई और अपराधियों ने फायरिंग शुरू कर दी. पुलिस की तरफ से जवाबी फायरिंग में एक बदमाश को कई गोलियां लगी. उसे अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. उसकी पहचान प्रवीण उर्फ़ बव्वन शुक्ला के रूप में हुई है. हालांकि उसके तीन साथी भागने में कामयाब रहे. उनकी तलाश के लिए नाकेबंदी की गई है. मृत बदमाश के पास से एक पिस्टल, एक डबल बैरल बंदूक और भारी मात्रा में कारतूस बरामद की गई है.

एसएसपी ने बताया कि  बव्वन पर 50 हजार का इनाम घोषित था और उसके खिलाफ विकरू गांव में पुलिस टीम पर हुए हमले में शामिल होने के आरोप में चौबेपुर थाने में केस भी दर्ज था. साथ ही वह विकास दुबे का खास आदमी था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Leave a comment
scroll to top