Close

न्यूज़ टुडे टीम अपडेट : डीएम फाॅर यूथ कार्यक्रम में डीएम ने कहा-परीक्षा के प्रत्येक चरण को एक समान महत्व देते हुए सकारात्मक माहौल में करें तैयारी

न्यूज़ टुडे टीम अपडेट : मोतिहारी/ बिहार :

★जिलाधिकारी शीर्षत कमल अशोक ने विभिन्न प्रतियोगिता परीक्षाओं की तैयारी के संबंध में जानकारी देते हुए कहा कि परीक्षा के प्रत्येक चरण को एक समान महत्व देते हुए सकारात्मक माहौल में करें तैयारी।
★★प्रतियोगी परीक्षा में सफलता के लिए आवश्यक है कि आत्मविश्वास के साथ करें तैयारी।
★★★प्रतियोगी परीक्षा में सफलता के लिए प्रबल इच्छाशक्ति की सर्वाधिक महत्वपूर्ण भूमिका होती है।
★★★★अपनी अभिरुचि के अनुरूप एवं सिलेबस के अनुसार तैयारी,साथ ही नियमित अंतराल पर स्व मूल्यांकन निसंदेह प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता में निर्णायक सिद्ध होता है।

मोतिहारी समाहरणालय स्थित राधाकृष्णन भवन में जिलाधिकारी शीर्षत कमल अशोक की अध्यक्षता में डीएम फाॅर यूथ कार्यक्रम का आयोजन हुआ।इस दौरान डीएम ने विभिन्न प्रतियोगिता परीक्षाओं की तैयारी के संबंध में जानकारी दी। उन्होंने उपस्थित प्रतिभागियों को प्रतियोगिता परीक्षा में सफलता के टिप्स देते हुए कहा की प्रतियोगी परीक्षा में सफलता के लिए प्रबल इच्छाशक्ति की सर्वाधिक महत्वपूर्ण भूमिका होती है। अपनी अभिरुचि के अनुरूप एवं सिलेबस के अनुसार तैयारी,साथ ही नियमित अंतराल पर स्व मूल्यांकन निसंदेह प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता में निर्णायक सिद्ध होता है।

उन्होंने कहा कि प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता के लिए यह आवश्यक है कि परीक्षा के प्रत्येक चरण को एक समान महत्व देते हुए सकारात्मक माहौल में तैयारी की जाए। विगत वर्षो में पूछे गए प्रश्नों का गहन विश्लेषण एवं उसके अनुसार तैयारी प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता के लिए आवश्यक होती है। जिलाधिकारी ने कार्यक्रम में उपस्थित प्रतिभागियों एवं ऑनलाइन के माध्यम से जुड़े प्रतिभागियों का उत्साहवर्धन करते हुए कहा कि जिला प्रशासन नियमित अंतराल पर विभिन्न विषयों में निपुण व्यक्तियों द्वारा प्रतिभागियों के मार्गदर्शन के लिए यह कार्यक्रम किया है।

जिसमें यथासंभव जिला स्तरीय पदाधिकारियों एवं महत्वपूर्ण पदो पर कार्यरत पदाधिकारियों ने प्रतियोगिता परीक्षा में सफलता के संदर्भ में अपने अनुभवों को साझा किया जाएगा। कार्यक्रम में ऑनलाइन के माध्यम से जुड़े प्रतिभागियों में खालिद अहमद, अजित गुप्ता व सौरभ मिश्रा आदि के पूछे गए प्रश्नों का समाधान किया गया। कार्यक्रम में सहायक समाहर्ता समीर सौरभ ने कहा कि प्रतियोगिता परीक्षा में सफलता के लिए आवश्यक है कि आत्मविश्वास के साथ तैयारी की जाए। समूह अध्ययन एवं निर्धारित सिलेबस के अनुसार अध्ययन में निरंतरता, समाचार पत्रों का सतत अवलोकन प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता के लिए नितांत आवश्यक है।

कार्यक्रम में उपस्थित वरीय उप समाहर्ता दीप शिखा ने निर्धारित लक्ष्य के अनुसार पूर्ण मनोयोग से अध्ययन में निरंतरता को प्रतियोगी परीक्षा में सफलता के लिए महत्वपूर्ण बताया। वहीं वरीय उप समाहर्ता मेघा कश्यप ने प्रतियोगिता परीक्षा में सफलता के संदर्भ में अपने अनुभवों को साझा किया। बताया कि प्रबल इच्छा शक्ति से नौकरी में रहते हुए उच्च पदों से संबधित प्रतियोगिता परीक्षा में सफलता प्राप्त की जा सकती है। समय प्रबंधन को प्रतियोगी परीक्षा में सफलता हेतु महत्वपूर्ण बताया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Leave a comment
scroll to top