न्यूज़ टुडे टीम अपडेट : सीएए के समर्थन और विरोध को लेकर दिल्ली में हालात खराब, दो पक्ष आपस में भिड़ गए और एक दूसरे पर की पत्थरबाजी, मौजपुर-बाबरपुर मेट्रो स्टेशन बंद

न्यूज़ टुडे टीम अपडेट : नई दिल्ली :

सीएए (CAA) के समर्थन और विरोध को लेकर दिल्ली में रविवार को हालात खराब हो गए। राष्ट्रीय राजधानी के मौजपुर में रविवार को नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के समर्थन और विरोध को लेकर दो पक्ष आपस में भिड़ गए और एक दूसरे पर पत्थरबाजी की। मौजपुर चौराहे के पास पथराव के बाद हालात को काबू में करने के लिए पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर आंसू गैस के गोले दागे। तनाव बढ़ने और पथराव के बाद मौजपुर-बाबरपुर मेट्रो स्टेशन को भी बंद कर दिया गया है।

दरअसल, सीएए के खिलाफ शाहीन बाग के बाद अब जाफराबाद में विरोध प्रदर्शन शुरू किए जाने के बाद भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता कपिल मिश्रा और उनके समर्थक सड़क पर उतर आए और अवरुद्ध मार्गो को खुलवाने की मांग करते हुए प्रदर्शन शुरू कर धरने पर बैठ गए।

इस दौरान कथित तौर पर कपिल मिश्रा और उनके समर्थकों पर पथराव हुआ और उन्होंने भी जवाबी कार्रवाई करते हुए पथराव शुरू कर दिया। काफी देर तक दोनों ओर से पत्थर फेंके गए। गाड़ियों में तोड़फोड़ किए जाने की भी खबरें सामने आ रही हैं।

इस दौरान सड़क से गुजर रहे लोगों ने पुलिस की भूमिका पर भी सवाल उठाया। लोगों ने आरोप लगाते हुए कहा कि पुलिस मारपीट को रोकने की बजाए सड़क किनारे खड़े होकर मूकदर्शक बनी रही। दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर के माध्यम से कहा कि सुरक्षा के मद्देनजर मौजपुर-बाबरपुर के प्रेवश और निकास द्वार बंद कर दिए गए हैं। खबरों के अनुसार, हालात बिगड़ते देख आस-पास के इलाके में सीआरपीएफ की टीम को तैनात किया गया है।

Updates