न्यूज़ टुडे टीम अपडेट : बेरोज़गारी पर केंद्र सरकार और नीतीश सरकार को घेरते हुए आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने कहा “पढ़लन फ़ारसी बेचलन तेल..देख इ ह बेरोज़गारी के खेल”

न्यूज़ टुडे टीम अपडेट : पटना/ बिहार : 

बेरोज़गारी पर केंद्र सरकार और नीतीश सरकार को घेरते हुए आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने “पढ़लन फ़ारसी बेचलन तेल..देख इ ह बेरोज़गारी के खेल” कहकर अपने भाषण की शुरुआत की. 23 फ़रवरी यानी आज से नेता विपक्ष तेजस्वी यादव ने ‘बेरोज़गारी हटाओ यात्रा’ की शुरुआत की है और इसी के साथ बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने विधानसभा चुनाव का शंखनाद भी कर दिया है.

हम डोमिसाइल क़ानून लाएंगे

तेजस्वी यादव ने कहा कि जब हम डिप्टी सीएम बने, तब डोमिसाइल क़ानून की मांग लालू यादव ने की थी. आठ महीने बाद चुनाव है और इस बार बिहार में आरजेडी की सरकार बनेगी. हमारी सरकार आई तो वादा है कि बिहार में डोमिसाइल क़ानून लाएंगे ताकि अपने युवाओं को रोज़गार पहले मिले.

बेरोज़गारी यात्रा बिहार के युवाओं को समर्पित

पटना के वेटनरी कॉलेज मैदान में पहुंचे तेजस्वी यादव ने कहा कि करोड़ों नौजवानों को रोज़गार मिले इसलिए ये यात्रा शुरू की. उन्होंने कहा कि या तो नीतीश जी रोज़गार दे या फिर इस यात्रा का समर्थन करें. उन्होंने कहा कि ये लड़ाई रोज़गार दिलाने की लड़ाई है और आपका भाई आज साथ खड़ा है. उन्होंने आगे कहा कि 45 साल बाद ऐसी बेरोज़गारी आकर खड़ी हो गई है. और ऐसे में बिहार ही बेरोज़गारी का केंद्र बना हुआ है. तेजस्वी ने आंकड़े पेश करते हुए कहा कि बिहार में 11.47 फीसद बेरेज़गारी है, जो कि पूरे देश में सबसे ज़्यादा है.

आरजेडी युवाओं को नौकरी दिलाने में लगी है और नीतीश जी अपनी नौकरी बचाने में लगे हैं

तेजस्वी यादव ने कहा कि नीतीश जी ने सिर्फ़ अपनी नौकरी बचाने का काम किया है. पिछले पंद्रह सालों में नीतीश कुमार ने बिहार के युवाओं के लिए कितना काम किया है? रोज़गार के लिए क्या कदम उठाए. कितने युवा हैं, जो अपना पत्र लेकर कार्यालय गए हैं. मेरे पिता लालू प्रसाद यादव जब पहली बार बिहार के मुख्यमंत्री बने तो बिहार में अफ़सरशाही चलती थी, लेकिन लालू जी ने ग़रीबों की आवाज़ उठाई. लालू जी जब मुख्यमंत्री बने तो बड़े बड़े पुल बने, लाखों लोगों की पुलिस में बहाली कराई, लेकिन आज नीतीश जी बताएं कि कितने विश्वविद्यालय खुले, कितनो को रोज़गार मिला. नीतीश जी ने लालू जी को धोखा दिया और बिहार को बरबाद कर दिया.

तेजस्वी की हुंकार, कहा नया बिहार बनाएंगे

चुनाव से पहले फ़ुल ऐक्शन में दिखे तेजस्वी यादव ने कहा कि भले ही हमसे कोई भूल-चूक हुई होगी. अगर हमसे कोई गलती हुई हो तो सार्वजनिक तौर पर माफ़ी, लेकिन हम नया बिहार बनाएंगे. हम युवा हैं और नए तरीक़े से बिहार बनेगा. बिहार को कुछ नया मिलेगा. तेजस्वी ने मंच से वादा किया कि बिहार को नयी ताक़त दिलाएंगे जो डबल इंजन की सरकार ने नहीं दिया.

देश में अघोषित आपातकाल और असल मुद्दों से भटकाया जा रहा है

तेजस्वी ने कहा कि सीएए का क़ानून लाकर देश के लोगों को रोज़गार, महंगाई और शिक्षा जैसे मुद्दों से भटकाया जा रहा है और अमित शाह क्रोनोलॉजी समझा रहें हैं. बेरोज़गारी कैसे हटेगी इस पर सरकार बात नहीं कर रही है. दूसरी तरफ़ उन्होंने जेडीयू और बीजेपी गठबंधन पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा कि संघ मुक्त की बात करने वाले नीतीश जी संघ युक्त भारत बनाने चले हैं. तेजस्वी ने कहा कि भले लालू जी जेल में हैं मगर उन्होने सम्प्रदायिक ताकतों को हराने का काम किया है. बीजेपी वालों खुश ना हों लालू यादव जिन्दा हैं, वो सिर्फ बीमार हैं.

Updates