न्यूज़ टुडे टीम अपडेट : राष्ट्र रक्षा मंच के तत्वावधान में पहली बार नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) व एनआरसी के समर्थन में उमड़ा जनसैलाब, पीएम मोदी व गृहमंत्री शाह के समर्थन में जमकर लगाए नारे

न्यूज़ टुडे टीम अपडेट : मोतिहारी/ बिहार :  

राष्ट्र रक्षा मंच के तत्वावधान में शहर में पहली बार नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) व एनआरसी के समर्थन में लोग सड़क पर उतरे। शहर के विभिन्न हिस्सों से जुटे लोगों ने पीएम मोदी व गृहमंत्री शाह के समर्थन में जमकर नारे लगाए और देशद्रोहियों पर कड़ी कार्रवाई की मांग की। भारत माता की जय व वंदे मातरम के उद्घोष से शहर का कोना-कोना गूंजता रहा।

नोट : कृपया इसे भी पढ़ें :-

न्यूज़ टुडे टीम एक्सक्लूसिव : मोतिहारी स्थित स्टेट बैंक के करेंसी चेस्ट से लगभग एक अरब रुपया स्टेट बैंक के अधिकारियों की मौजूदगी में देर रात रिजर्व बैंक, पटना पहुंचा, गिनती को लेकर शनिवार को भी खुला रिजर्व बैंक

शहर के नरसिंह बाबा मंदिर प्रांगण से निकली समर्थन यात्रा में बड़ा सा तिरंगा व भगवा ध्वज शोभायमान हो रहे थे। यात्रा स्टेशन होते हुए जानपुल, मीना बाजार चौक होते नगर भवन के मैदान मे विशाल सभा मे तब्दील हो गई। वक्ताओं ने कहा कि यह समर्थन यात्रा राष्ट्र विरोधियों को करारा जवाब है। कड़ाके की ठंड में भी मोतिहारी की सड़कों पर लोग समर्थन में उतर गए थे।

नोट : कृपया इसे भी पढ़ें :-

न्यूज़ टुडे टीम फ़िल्म अपडेट : भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के इतिहास में चम्पारण की भूमिका पर आधारित ’’चम्पारण सत्याग्रह’’ चम्पारण के लिए न केवल एक उपलब्धि होगी बल्कि एक धरोहर के रूप में विख्यात होगा : ब्रजकिशोर सिंह

कहा गया कि नागरिकता संशोधन कानून नागरिकता देने के लिए है लेने के लिए नहीं। महात्मा गांधी ने भी कहा था कि कि बंग्लादेश अफगानिस्तान और पाकिस्तान से प्रताड़ित हिन्दू या वहां के अल्पसंख्यक धर्म बचाने के लिए भारत आएगा तो उसे नागरिकता देना होगा, क्योंकि ये तीनों देश इस्लामिक कट्टरपंथी देश हैं। बंटवारे के बाद वहां अल्पसंख्यक सुरक्षित नहीं रह पाएंगे। केंद्र की सरकार ने तीनों देशों से आए अल्पसंख्यकों को नागरिकता दिया है, जिसका सम्मान किया जाना चाहिए। एनआरसी तो केवल असम में सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर लागू हुआ है, लेकिन पूरे भारत में लागू हो इसकी जरूरत है। घुसपैठिए को हर हाल में भारत छोड़ना पड़ेगा। पूरा देश केंद्र सरकार के फैसले के साथ है। कार्यक्रम का संचालन विहिप के बिहार झारखंड के क्षेत्र संपर्क प्रमुख अशोक श्रीवास्तव अधिवक्ता ने किया।

नोट : कृपया इसे भी पढ़ें :-

न्यूज़ टुडे एक्सक्लूसिव : शेल्टर होम मामले में सीबीआइ की प्रारंभिक रिपोर्ट मिलते ही मुख्य सचिव ने सामान्य प्रशासन विभाग को कार्रवाई का दिया निर्देश, 10 जिलों के 20 तत्कालीन डीएम समेत 25 आइएएस अधिकारियों को शोकॉज

संबोधन करने वालों में शिवहर सांसद रमा देवी, विधान पार्षद बबलू गुप्ता, चिरैया विधायक लालबाबू प्रसाद, भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष अखिलेश कुमार सिंह, डॉ. आशुतोष शरण, विहिप के देवेन्द्र सिंह, नगदाहां सेवा समिति के संस्थापक अध्यक्ष मुन्ना गिरि, जितेंद्र कुशवाहा, हेमंत कुमार, डॉ. हीना चंद्रा, डॉ.चंद्र सुभाष, राजमंगल पटेल, राजेश तिवारी, डॉ. संतोष श्रीवास्तव, अभिनव पांडेय, दिलीप सर्राफ, सूरज बरजतिया, नवल किशोर गुप्त, बलिराम सिंह, सचिन कुमार, डॉ. लालबाबू प्रसाद, वसंत मिश्रा, प्रो. पुतुल पाठक, लालसा शर्मा, धीरज जायसवाल, कृष्ण कुमार, रत्नेश राज, मुन्ना तिवारी, मनोज सिंह, अधिवक्ता विनय कुमार, प्रो. अरुण कुमार भगत, प्रेमशंकर पासवान, रोहन सिंह, नवीन कुमार, भानू प्रताप सिंह, सुशांत सिंह, राजेश रंजन, युवा भाजपा नेता संजय सिंह आदि प्रमुख थे।

नोट : कृपया इसे भी पढ़ें :-

न्यूज़ टुडे टीम एक्सक्लूसिव : आपराधिक मामलों के गवाहों को अब राज्य सरकार पर्याप्त सुरक्षा प्रदान करेगी, कैबिनेट की बैठक में बिहार गवाह सुरक्षा योजना, 2018 सहित 18 प्रस्तावों को मंजूरी

यात्रा में शामिल हुए शहर के कई बुद्धिजीवी

सीएए व एनआरसी के समर्थन में निकली यात्रा में शहर के कई बुद्धिजीवी भी शामिल हुए। इसमें शहर के प्रसिद्ध चिकित्सक डा. आशुतोष शरण, हडडी रोग विशेषज्ञ राकेश कुमार, महिला चिकित्सक डा. हीना चंद्रा, डा. अतुल कुमार, डा. चंद्र सुभाष, संजय कुमार सिंह, अधिवक्ता आलोक चंद्र, प्रसिद्ध अधिवक्ता नरेंद्र देव, ब्रावो से जुड़े राहुल आर पाण्डेय, विवेक कुमार सिंह, प्रसिद्ध व्यास अखिलेश्वर प्रसाद सिंह, कथा व्यास संजय कुमार रमन, मार्तंड कुमार सिंह, उत्तम मिश्रा समेत लाखों लोग शामिल रहे।

नोट : कृपया इसे भी पढ़ें :-

न्यूज़ टुडे टीम अपडेट : छपरा, वैशाली, मुजफ्फरपुर और पूर्वी चंपारण   के लोगों को एनआरसी और सीएए का मायने मतलब समझाने हेतु हमलावर राजद के गढ़ वैशाली में होगी अमित शाह की सभा

पहले देश, उसके बाद ही कोई मुद्दा

बंजरिया थाना क्षेत्र के सिसवा अजगरी गांव से भी काफी संख्या में लोग सीएए व एनआरसी के समर्थन जुलूस में शामिल हुए। जिसमें ग्रामीण आए थे। वे हाथ में स्लोगन लिखी तख्तियां लेकर पहुंचे हुए थे। तख्ती पर लिखा हुआ था-दलित, शोषित व पिछड़ों के सम्मान में। पूरा भारत मैदान। सिसवा अजगरी के दिलीप व उनके साथियों ने बताया कि उनके गांव सैकड़ों की संख्या में एनआरसी व सीएए के समर्थन में वे सभी जुलूस में शामिल होने आए हैं। वहीं हरसिद्धि के मटियरिया गांव से पहुचे ग्रामीण विनय ने बताया कि वे देश के साथ खड़े हैं। कहा-पहले देश, फिर कोई मुद्दा।

Updates

x

छठ पूजा की हार्दिक शुभकामनाएं