न्यूज़ टुडे टीम एक्सक्लूसिव : थोड़े से लाभ के लिए जीवित पति को मृत घोषित कर महिलाओं ने उठाई लक्ष्मी बाई सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना का लाभ, पतियों ने बीडीओ से की शिकायत

न्यूज़ टुडे टीम एक्सक्लूसिव : पालीगंज/ पटना/ बिहार :

पति की लंबी उम्र व सलामती के लिए न जाने कितने पर्व त्योहार पत्नी करती हैं. लेकिन पालीगंज में दो महिलाओं ने थोड़े से लाभ के लिए जीवित पति को मृत घोषित कर दिया. मामला प्रखंड के भेड़हरिया सियारामपुर ग्राम पंचायत में दो महिलाओं द्वारा लक्ष्मी बाई सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना का लाभ लेने के लिए किया है.  

नोट : कृपया इसे भी पढ़ें :- 

न्यूज़ टुडे टीम एक्सक्लूसिव : नये ट्रैफिक नियम लागू होने के बाद पुलिस ने राज्यवासियों से करोड़ों रुपये का जुर्माना वसूले, पर खुद के करीब 12 सौ से अधिक पुलिस वाहनों के कागजात नहीं

सरकारी कर्मी एवं बिचौलिया के मिली भगत से जीवित पति को मृत घोषित कर मृत्यु प्रमाणपत्र बनाकर पेंशन भी स्वीकृत करा दिया गया. जब इसकी खबर पति को लगी तो स्वयं बीडीओ के पास अपने को जीवित होने व पत्नी द्वारा उसे मृत घोषित कर पेंशन पास कराने की शिकायत की.  

नोट : कृपया इसे भी पढ़ें :- 

न्यूज़ टुडे टीम अपडेट : सहयोगी दलों के बीच लोकसभा में मिली सीटों के आधार पर विधानसभा क्षेत्रों का हिस्सा बंटेगा, महागठबंधन में बड़े भाई की भूमिका में होगा राजद

पालीगंज बीडीओ चिरंजीव पांडे ने बताया कि जीवित पति के मृत घोषित करने के मामले  में  सूचना मिलते ही जब स्वयं गांव में जाकर जांच की तो पाया कि आवेदनकर्ता फुलवा देवी पति विश्वासी चौधरी एवं बेबी देवी पति रवींद्र दास ग्राम भेड़हरिया इंग्लिश थाना पालीगंज के हैं. जांच के दौरान दोनों के पति द्वारा शिकायत की गयी थी कि मेरी पत्नी पेंशन योजना का लाभ लेने के लिए पंचायत के एक बिचौलिया के हाथों में मेरा मृत्यु प्रमाणपत्र बनाया, और आवेदन कर दिया. 

नोट : कृपया इसे भी पढ़ें :- 

न्यूज़ टुडे टीम अपडेट : लोकसभा चुनाव में उनकी पार्टी का स्ट्राइक रेट सौ फीसदी रहने से एनडीए की मजबूत घटक लोजपा ने इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव में उसे 43 सीटों की मांग की

आवेदन स्वीकृत होने के बाद सूचना मिली तो लिखित आवेदन के साथ बीडीओ पालीगंज के पास पहुंचकर दोनों महिलाओं के पतियों ने शिकायत की. जांच के दौरान बीडीओ ने पाया गया कि दोनों महिलाओं के पति जीवित हैं. आवेदनकर्ता बेबी देवी पति रवींद्र दास एवं फुलवा देवी पति बिसवानी चौधरी दोनों पेंशनधारी के पति जीवित हैं. 

नोट : कृपया इसे भी पढ़ें :- 

न्यूज़ टुडे टीम अपडेट : साहित्य अकादमी नई दिल्ली व महात्मा गांधी केंद्रीय विश्वविद्यालय मोतिहारी के तत्वावधान में राष्ट्रीय परिसंवाद’ पत्रकारिता और साहित्य अटल बिहारी वाजपेयी का विशेष संदर्भ’ का आयोजन

यह देखकर जांच पदाधिकारियों में हड़कंप मच गया. वहीं पंचायत सेवक ने दोनों के खिलाफ कार्रवाई के लिए स्थानीय थाने में आवेदन दिया है. बीडीओ चिरंजीवी पांडेय ने बताया कि मामले की जांच की जा रही जांच के बाद दोषी पर सख्त कार्रवाई की जायेगी. साथ ही स्थानीय थाने में कार्रवाई के लिए आवेदन दिया गया है.

Updates

x

छठ पूजा की हार्दिक शुभकामनाएं