न्यूज़ टुडे टीम एक्सक्लूसिव : बिहार में बाढ़, खासकर पटना में जलजमाव को लेकर सत्‍ताधारी राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन में खींची तलवारें, गिरिराज सिंह ने माफ़ी के साथ फिर अपने ही सरकार पर हमला बोला

न्यूज़ टुडे टीम एक्सक्लूसिव : पटना :

बिहार में बाढ़, खासकर पटना में जलजमाव को लेकर सियासत गर्म है। इस मुद्दे पर सत्‍ताधारी राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन में भी तलवारें खिंच गईं हैं। इसकी शुरुआत केंद्रीय मंत्री व बिहार के बेगूसराय से भारतीय जनता पार्टी सासंद गिरिराज सिंह के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार को घेरते बयान से हुई। गिरिराज सिंह ने रविवार को फिर नया बयान दिया है। उन्‍होंने दुर्गापूजा मेला में बाढ़ व जलजमाव के कारण हो रही परेशानी के लिए क्षमा मांगी है।

उधर, गिरिराज के बयान पर जनता दल यूनाइटेड ने तीखी प्रतिक्रिया दी है। जेडीयू के राष्‍ट्रीय महासचिव केसी त्‍यागी ने ऐसे बड़बोले नेताओं के बयन पर रोक लगाने की मांग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह से की है।

गिरिराज सिंह ने किया ये ट्वीट

अपने ट्वीट में गिरिराज सिंह ने लिखा है कि दुर्गापूजा का मेला शुरू हो गया है। उन्‍होंने एनडीए की तरफ से उन सभी लोगों से क्षमा मांगी है, जिनके यहां बाढ़ के कारण पूजा, पंडाल एवं मेला का आयोजन नही हो पाया है। गिरिराज के इस ट्वीट को उनके पहले के ट्वीट का विस्‍तार माना जा रहा है, जिसमें उन्‍होंने स्थिति के लिए सीधे तौर पर राज्‍य सरकार को जिम्‍मेदार माना था। ट्वीट में उन्‍होंने एनडीए की तरफ से माफी मांगी है। एनडीए में जेडीयू भी है।

सीएम नीतीश को ठहरा चुके जिम्‍मेदार

उन्‍होंने पहले के ट्वीट में पटना में जल-जमाव के लिए मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार व उपमुख्‍यमंत्री सुशील मोदी को जिम्‍मेदार ठहाराया था। बाद में एक अन्‍य ट्वीट में उन्‍होंने कहा कि बिहार में बीजेपी व जेडीयू दोनों की सरकार है, इसीलिए जवाबदेही दोनों की है। एक अन्‍य ट्वीट में उन्‍होंने सरकार पर नामामी का ठीकरा फोड़ते हुए उससे जनता से माफी मांगने की बात कही थी। उन्‍होंने एक अन्‍य ट्वीट में आरोप लगाया था कि सरकारी अधिकारी बीजेपी नेताओं के फाेन नहीं उठाते।

बयानों व ट्वीट से आया भूचाल

गिरिराज सिंह के बयानों व ट्वीट से बिहार एनडीए में भूचाल आया हुआ है, लेकिन वे थमते नहीं दिख रहे। उनका ताज ट्वीट इसी की एक कड़ी है।

केसी त्‍यागी ने पीएम मोदी व अमित शाह से की ये मांग

गिरिराज के बयानों का जेडीयू ने विरोध किया है। उनके ताजा ट्वीट पर प्रतिक्रिया देते हुए जेडीयू के राष्‍ट्रीय महासचिव केसी त्‍यागी ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह ऐसे बड़बोले नेताओं के बयनों पर रोक लगाएं, जिनकी वजह से एनडीए की छवि खराब हो रही है। इसके एक दिन पहले भी केसी त्‍यागी ने कहा था कि कुछ बीजेपी नेता मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर विपक्ष से भी तीखे हमले कर रहे हैं। बिहार में जेडीयू के प्रवक्‍ता निखिल आनंद ने कहा है कि गिरिरज सिंह ‘बोल बच्‍चन’ टाइप नेता हैं, जिनकी बातों को कोई नोटिस नहीं लेता।

जेडीयू नेताओं के निशाने पर गिरिराज

गिरिराज सिंह के बयान पर और भी कई जेडीयू नेताओं ने बड़े बयान देते रहे हैं। जेडीयू नेता व मंत्री अशोक चौधरी ने कहा कि गिरिराज को विवादित बयान देने की आदत है। वे लोकसभा चुनाव के समय नीतीश कुमार के पैर पकड़ रहे थे और आज ट्वीट कर हमले कर रहे हैं। जेडीयू नेता व मंत्री श्रवण कुमार ने कहा कि जो गिरिराज सिंह केवल चर्चा में बने रहने के लिए बयानबाजी करते हैं। वे बताएं कि केंद्रीय मंत्री रहते हुए उन्होंने बिहार के लिए क्या किया है? जेडीयू प्रवक्ता संजय सिंह ने गिरिराज सिंह को मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार के सामने उनकी हैसियत दिखाते हुए ‘डिरेल’ बताया है।

Updates