न्यूज़ टुडे टीम एक्सक्लूसिव : शराब कारोबारियों ने पताही के थानाध्यक्ष को पीट-पीट कर अधमरा कर खेत में फेंका, जीवन मौत से जूझ रहे थानाध्यक्ष नर्सिंग होम में भर्ती, घर छोड़कर फरार हो गये धंधेबाज, मुखिया समेत 44 नामजद और 100 अज्ञात के विरुद्ध एफआईआर दर्ज

न्यूज़ टुडे टीम एक्सक्लूसिव : मोतिहारी :

जिले में शराब कारोबारियों पताही थानाध्यक्ष पर जानलेवा हमला किया है। शराब कारोबारियों ने पताही के थानाध्यक्ष को पीट-पीट कर अधमरा कर खेत में फेंक दिया है। पताही के थानाध्यक्ष विकास तिवारी चुलाई शराब की सूचना पर छापेमारी करने पहुंचे थे। घटना पताही थाना के महादलित बस्ती ढागरटोली की है।शराब कारोबारियों ने थानाध्यक्ष को अधमरा कर खेत में फेंक दिया। जानकारी के अनुसार उनकी स्थिति चिंताजनक है।

खबर है कि थानाध्यक्ष सिविल ड्रेस में छापेमारी करने गए थे।वहीं इस घटना में चौकीदार का सर फटा है। दोनों को ढ़ाका रेफरल अस्पताल लाया जाया गया जहां चिकित्सकों ने बेहतर इलाज के मोतिहारी रहमानिया मेडिकल सेंटर में रेफर कर दिया, जहां इलाज जारी है। वहीं मौके पर एसपी उपेन्द्र शर्मा, जिलाधिकारी रमण कुमार, पकड़ीदयाल डीएसपी दिनेश कुमार पाण्डेय व सिकरहना डीएसपी अस्पताल पहुंच हालात का जायजा लिए।

ग्रामीणों के हस्तक्षेप पर सर्विस रिवॉल्वर लूटने से बची

पताही थानाध्यक्ष विकास तिवारी पर शराब कारोबारियों द्वारा हमला के दौरान सिसवा गांव के ग्रामीणों की पहल पर उनकी सर्विस रिवॉल्वर लूटने से बच गई। जिसे सुरक्षित पकड़ीदयाल डीएसपी द्वारा बरामद कर लिया गया।

पिस्टल लूटकर भाग रहे शराब कारोबारी ग्रामीणों के हस्तक्षेप पर पिस्टल की मैगजीन एवं गोलियां अलग अलग कर धान के खेत में फेंक कर भाग निकले थे। जिससे काफी खोजबीन के बाद पिस्टल, मैगजीन एंव सभी गोलियां बरामद कर ली गयी है।

शराब कारोबारियों की पिटाई से बेहोश होने के बाद शराब कारोबारी थानाध्यक्ष की कमर से पिस्टल निकाल कर भागने लगा। जिसे देख ढाका व पताही के बॉर्डर पर बसे सिसवा गांव के ग्रामीणों ने पिस्टल लेकर भाग रहे शराब कारोबारियों को खदेड़ कर पकड़ने की कोशिश की। लेकिनपिस्टल की मैगजीन एवं गोलियां अलग-अलग कर धान के खेत में फेंककर भागने में सफल रहा। सूचना पर पहुंचे डीएसपी दिनेश कुमार पांडे को सिसवा के ग्रामीणों ने बताया कि मैगजीन व कारतूस फेंककर वे लोग फरार हैं।

थानाध्यक्ष के मना करने पर नहीं की फायरिंग

हमले के दौरान थानाध्यक्ष विकास तिवारी ने बीएमपी के जवानों को हवाई फायर करने से दो बार मना कर दिया। जिसके बाद शराब कारोबारी और उग्र होकर ईंट पत्थर एवं लाठी-डंडे से हमला करने लगे। जानकारी के अनुसार चौकीदार का सिर फूटने के बाद बीएमपी के दो जवान हवाई फायरिंग करने के लिए दो बार राइफल को कॉक किया। लेकिन थानाध्यक्ष श्री तिवारी द्वारा दोनों बार हवाई फायरिंग करने से मना कर दिया गया। इस दौरान उक्त दोनों जवानों को भी शराब कारोबारियों ने ईंट पत्थर से हमला कर घायल कर दिया है।

घर छोड़कर फरार हो गये धंधेबाज

घटना के तुरंत बाद भारी संख्या में पुलिस बलों ने नोनफरवा धांगड़ टोली चौक को चौतरफा घेरकर छापेमारी की। हालांकि शराब कारोबारी घर छोड़कर फरार हो गए थे। छापेमारी का नेतृत्व अभियान एसपी हिमांशु गौरव, पकड़ीदयाल डीएसपी दिनेश कुमार पांडे व ढाका डीएसपी शिवेंद्र कुमार अनुभवी कर रहे थे। इस दौरान सभी घरों की सघन तलाशी ली गई। लेकिन उक्त टोला के सभी महिला एवं पुरुष घर छोड़कर फरार हो गए थे। छापेमारी के बाद उक्त टोला में सन्नाटा परस गया था। फिलहाल पकड़ीदयाल डीएसपी दिनेश कुमार पांडे एवं मधुबन इंस्पेक्टर अशोक मेहता पुलिस बल के साथ कैंप कर रहे हैं।

नुनफरवा पंचायत के मुखिया ध्रुव मांझी समेत 44 नामजद और 100 अज्ञात के विरुद्ध एफआईआर दर्ज, एक महिला समेत छह लोग को हिरासत में

पताही थानाध्यक्ष पर हुए जानलेवा हमले में पुलिसिया कार्रवाई तेज हो गयी है। मामले में पुलिस ने छापेमारी कर अभी तक एक महिला समेत छह लोगों को हिरासत में लिया है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक पुलिस टीम पर हमले को लेकर पताही थाने में एएसआई गंगा दयाल ओझा के बयान पर 44 नामजद और 100 अज्ञात के विरुद्ध एफआईआर दर्ज हुई है। आरोपियों में नुनफरवा पंचायत के मुखिया ध्रुव मांझी भी नामजद किये गए हैं। इधर हमले के बाद से धांगर टोली के अधिकांश लोग गांव छोड़कर फरार हैं। 

Updates